Typing Master : नई दिल्ली : महामारी के दौरान मोदी सरकार ने असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए ई-श्रम कार्ड योजना शुरू की थी. सरकार ई-श्रमिक कार्ड वाले करोड़ों मजदूरों के खातों में भरण-पोषण भत्ता भेज रही है ताकि ये मजदूर अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा कर सकें। यदि आप भी उन लोगों में से एक हैं जिन्होंने ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण कराया है या आपके परिवार का कोई व्यक्ति इस पोर्टल पर पंजीकृत है क्योंकि योजना के तहत एक हजार रुपये की दूसरी जमा राशि आपके खाते में जमा की जाएगी। पोर्टल पर पंजीकृत श्रमिकों का खाता। किश्त भेजी जा रही है। इस लेख के जरिए आप जान सकते हैं कि आपके श्रमिक खाते में योजना की दूसरी किस्त आई है या नहीं। आप अपने खाते में ई-श्रम कार्ड की दूसरी किस्त की स्थिति की जांच कर सकते हैं। साथ ही आपको लेख में ई-श्रम कार्ड योजना से संबंधित जानकारी भी मिलेगी।

सरकार ने राजमिस्त्री, बढ़ई, दूध विक्रेता और दिहाड़ी मजदूरों जैसे असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले श्रमिकों के लिए ई-श्रमिक कार्ड योजना 2023 शुरू की है। लॉकडाउन के दौरान नौकरी छूटने से सबसे ज्यादा नुकसान इसी सेक्टर के कारीगरों को हुआ है। ऐसे मजदूरों के लिए श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने ई-श्रम कार्ड योजना शुरू की है। सरकार उन लोगों के खाते में राशि हस्तांतरित करेगी जिन्होंने सरकारी श्रम पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराया है। योजनान्तर्गत 3 जनवरी से एक हजार रुपये की दूसरी किस्त हितग्राहियों के खातों में भेजी जा रही है।

×